Breaking News
Loading...

डीजीपी ने वापस लिया तीन अतिरिक्त दरोगाओं की तैनाती का फैसला, पुलिस कप्तान खुद करेंगे निर्णय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में थानों पर प्रभारी निरीक्षक के साथ तीन अतिरिक्त निरीक्षकों की तैनाती को लेकर डीजीपी मुख्यालय ने बड़ा फैसला किया है। अब जिलों के पुलिस कप्तानों के विवेक पर निर्भर करेगा कि परिस्थितियों और संबंधित थानों की स्थिति को देखते हुए, इस पर निर्णय लें कि किस थाने पर तीन अतिरिक्त निरीक्षक रखने हैं और कहां नहीं। साथ ही डीजीपी ने सभी जोन के एडीजी और रेंज के आईजी से भी इस संबंध में रिपोर्ट मांगी है।

जानकारी के अनुसार एक महीने पहले लागू की गई इस व्यवस्था को लेकर डीजीपी मुख्यालय ने राजधानी के अफसरों के साथ मंथन किया। मंथन के दौरान सामने आया कि प्रदेश के कई थाने ऐसे हैं जहां अपराध अधिक हैं, लेकिन सर्किल मुख्यालय न होने के कारण वहां अतिरिक्त निरीक्षकों की तैनाती नहीं की जा सकती। जिसके बाद निर्णय लिया गया कि जहां भी जिला पुलिस प्रभारी को लगता है, कि इस थाने पर अतिरिक्त निरीक्षकों की आवश्यकता है, वह तैनात कर सकता है।

डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि प्रयोग के तौर पर इस व्यवस्था को लागू किया गया है। कुछ जिलों से फीडबैक मिले हैं जिसके बाद सर्किल मुख्यालय के अलावा अधिक क्राइम वाले या संवेदनशील थानों पर अतिरिक्त निरीक्षकों की तैनाती का फैसला जिलों के पुलिस कप्तान पर छोड़ दिया गया।

Loading...

उन्होंने बताया कि जोन में तैनात एडीजी और रेंज में तैनात आईजी व डीआईजी से भी इस मामले में अपना पक्ष रखने के लिए कहा गया है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *